Bewafa Shayari

Bewafa Shayari Thumbnail

Bewafa Shayari in Hindi

नादान दिल अक्सर सुनता था जिसकी बातो को,
अब वो बेवफा शख्स बहुत याद आता रातो को..!!

हमें न मोहब्बत मिली न प्यार मिला,
हमको जो भी मिला बेवफा यार मिला,
अपनी तो बन गई तमाशा ज़िन्दगी,
हर कोई मकसद का तलबगार मिला..!!

जवाब है सब कुछ दे देना,
जो लोग मेरे रिश्ते की अहमियत को नहीं समझ पाए हैं,
वो अब भी मेरी बातों को क्या समझेंगे..!!

खुश रहो उनके साथ जो,
तुम्हें हमसे भी ज्यादा प्यार करते है..!!

आज तो तुमने साबित कर ही दिया की,
तुम्हारी जिंदगी में मेरी कोई अहमियत नहीं है..!!

जिससे हमने बेवफाई पायी,
वो हमसे वफ़ा की उम्मीद करते हैं,
दिल पर जख़्म देकर,
निशान शरीर पर ढूंढ़ते हैं..!!

मुझे बेवफाई नहीं चाहिए थी,
मुझे धोखा नहीं चाहिए था,
मुझे तो बस थोड़ा सा प्यार चाहिए था..!!

उसे भी साथ रखता और तुझे भी अपना बना लेता,
अगर मैं चाहता तो दिल में कोई चोर दरवाज़ा बना लेता..!!

दिल मारने वाले आंखों से रोते नहीं हैं,
जो अपने नहीं बने हैं वो किसी के नहीं बने हैं,
वक्त हमेशा हमें सिखाता है कि सपने टूटे हैं,
लेकिन पूरे नहीं होते..!!

देखा है ज़िंदगी को कुछ इतने क़रीब से,
चेहरे तमाम लगने लगे हैं अजीब से..!!

जब मैंने शायरी की दुनिया में कदम रखा तो पता चला,
दुख की महफिल में भी वाह वाह यह बोला जा रहा है..!!

एक दौर था वो हर वक़्त मेरी फ़िक्र करने वाली,
हर समय मेरे बारे मैं सोचने वाली,
कहाँ चली गई वफ़ा करने वाली,
बेवफाई करके चली गयी..!!

कैसे करूं उस शक्स पर भरोसा जिसने मुझे,
मेरे अकेलेपन पर मुझे अकेला छोड़ दिया..!!

तुम किसी के भी हो नहीं सकते,
तुम को अपना बना के देख लिया..!!

हमने अक्सर तुम्हारी राहों में,
रुक कर अपना ही इंतज़ार किया..!!

ज़िंदगी रही तो हर दिन तुम्हे याद करते रहेंगे,
भूल गया तो समझ लेना भगवान ने हमें याद कर लिया..!!

एक ही ख़्वाब ने सारी रात जगाया है,
मैंने हर करवट सोने की कोशिश की..!!

रात बजती थी दूर शहनाई,
रोया पीकर बहुत शराब कोई..!!

आज उसने हंस के यूं पूछा मिज़ाज,
उम्र भर के रंज-ओ-ग़म याद आ गए..!!

अब तो कुछ भी याद नहीं है,
हम ने तुम को चाहा होगा..!!

अब जुदाई के सफ़र को मेरे आसान करो,
तुम मुझे ख़्वाब में आकर न परेशान करो..!!

जिनसे थे मेरे नैन मिले,
बन गए थे ज़िन्दगी के सिलसिले,
इतना प्यार करने के बाद भी,
सनम मेरे बेवफा निकले..!!

जितने आंसू मैंने बहा दिए तेरे लिए,
इतने तो तेरे अपने भी नहीं बहाएंगे तेरे लिए..!!

अगर इतना इंतज़ार करवाकर भी तुम मेरे पास ना आये
तो तुमसे बड़ा बेवफा और कोई नहीं होगा..!!

और तो क्या था बेचने के लिए,
अपनी आँखों के ख़्वाब बेचे हैं..!!

उसके चाहने वालों का आज उसकी गली में धरना है,
यहीं पे रुक जाओ तो ठीक है आगे जाकर मरना है..!!

रूह किसी को सौंप आये हो तो ये जिस्म भी ले जाओ,
वैसे भी मैंने इस खाली बोतल का क्या करना है..!!

मैं भूल जाऊंगा कि आप खुद को बेवफा भूल गए हैं,
लेकिन मैं आपको दुनिया के सामने बेवफा कहकर बदनाम नहीं करूंगा..!!

तू किसी और को चाहे और मुझे हवा ना लगे,
ऐसा नहीं हो सकता सच्चे प्यार को ठुकरा कर तुझे बद्दुआ ना लगे..!!

आँख से आँसू दिल से दर्द उमड़ आने पर हैरत क्या,
मुझे पता था उसने हर बर्तन का नूतन भरना है..!!

अभी पास है तो ठोकर मारकर बेवफा बना देते हो,
जब दूर हो जाएंगे तो प्यार जाताओगे..!!

Scroll to Top